आवाज़ का जादूगर मनोज मौर्या

ManojMauryaतालियों की गड़गड़ाहट के बीच बहुत खूब बहुत खूब, वन्स मोर वन्स मोर. यह सब कुछ लोग कहते हैं जब वह अपनी आवाज साज़ के सुरों के साथ छेड़ता है. उस नौजवान की गायकी का अंदाज़ जैसे लगता हो कानों को मजबूर करता है सुनने को. साधना, तपस्या व आत्म विश्वास चेहरे पर साफ झलकती है.

यह फनकार, गायक कोई और नहीं मनोज मौर्या हैं. संगीतकला में काशी हिन्दू विश्वविधालय से स्नातक की शिक्षा प्राप्त कर मनोज मायानगरी मुम्बई अपनी आवाज़ की जादू बिखेरने चला और आते ही एक हिन्दी अलबम ‘ज़रा ज़रा तुम से कहना’ कर दिया जिसे रिलीज़ किया है हिन्दुस्तान की मशहूर कम्पनी टाइम्स म्यूज़िक ने. साथ ही भोजपुरी फीचर फिल्म में एक्शन स्टार मनोज पांडेय के लिए फिल्म ‘खोंइछा’ में गाकर अपनी गायकी यात्रा का श्री गणेश करने वाला मनोज मौर्या किसी परिचय का मोहताज नहीं.

महेन्द्र सिंह मौर्य का सुपु़त्र मनोज मौर्य जिला बक्सर, बिहार का यह युवा गायक निश्चित रूप से अपनी आवाज़ के जादू से सब को मंत्रमुग्ध करेगा, ऐसा लगता है कि क्योंकि होनहार वीर के होत चिकने पात.


(संजय भूषण पटियाला)

One comment

  1. Sir,
    Aap ne jo kuch bhi lekhane ki koses ki hai Manoj Maurya k bare wo 100% sach hai.i am big fun of his voice.

    Jab manoj ki awaaj kano to pahuchti hai,aapne aap aakhe band ho jati hai.we r cazy to listion his voice in hindi movies also

Comments are closed.