विनोद खन्ना का निधन


अपने समय के मशहूर फिल्म अभिनेता और गुरुदासपुर से भाजपा सांसद रहे विनोद खन्ना का निधन आज गुरुवार, 27 फरवरी 2017, को 70 साल की उम्र में मुंबई के रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में हो गया जहाँ वे पिछले कई दिनों से भरती थे. बताते हैं कि विनोद खन्ना को पेशाब की थैली का कैंसर हो गया था.

पिछले दिनौं उनकी एक तस्वीर वायरल हो गई थी जिसे देख कर कुछ लोगौं ने तभी उनके निधन की खबर फैला दी थी और कुछ लोगों ने अपनी संवेदना श्रद्धांजलि भी दे दी थी. इस चित्र में उनके साथ उनके बेटा और बेटी नजर आ रही हैं.

विनोद खन्ना की यादगार फिल्में थीं ‘मेरे अपने’, ‘कुर्बानी’, ‘पूरब और पश्चिम’, ‘रेशमा और शेरा’, ‘हाथ की सफाई’, ‘हेरा फेरी’, ‘मुकद्दर का सिकंदर’ वगैरह. विनोद खन्ना को अकेले नायक के रुप में साल 1971 में फिल्म ‘हम तुम और वो’ में देखने को मिला था.

विनोद खन्ना की आखिरी फिल्म थी राजमाता विजयाराजे सिंधिया के जीवन पर बनी फिल्म ‘एक थी रानी ऐसी भी’ जिसमें वे हेमा मालिनी के साथ थे. अभिनेत्री तथा मथुरा लोकसभा सीट से भाजपा सांसद हेमा मालिनी ने इसमें विजयाराजे की भूमिका निभाई है.

विनोद खन्ना का जन्म 7 अक्टूबर, 1946 को पेशावर, पाकिस्तान में एक पंजाबी परिवार में हुआ था. विभाजन के बाद भारत में आ बसे पिता किशनचन्द्र खन्ना एक बिजनेसमैन और माता कमला खन्ना हाउसवाइफ थीं. फिल्मों में काम करना उनके पिता को बिल्कुल पसन्द नहीं था.